FB 2793 - प्रार्थनाओं, सद भावनाओं की मूसलाधार बारिश ने स्नेह रूपी बंधन का बांध तोड़ दिया है ; बह गया, तर कर दिया मुझे इस अपार प्यार ने, मेरे एकाकी पन के अंधेरे को जो तुमने, प्रज्वलित कर दिया है व्यक्तिगत आभार मैं व्यक्त न कर पाउँगा , बस शीश झुकाके नत मस्तक हूँ मैं 🙏

An enigmatic superstar | The Shahenshah of Bollywood

FB 2793 - प्रार्थनाओं, सद भावनाओं की मूसलाधार बारिश ने स्नेह रूपी बंधन का बांध तोड़ दिया है ; बह गया, तर कर दिया मुझे इस अपार प्यार ने, मेरे एकाकी पन के अंधेरे को जो तुमने, प्रज्वलित कर दिया है व्यक्तिगत आभार मैं व्यक्त न कर पाउँगा , बस शीश झुकाके नत मस्तक हूँ मैं 🙏

Let's Connect

sm2p0