FB 2341- "इत्र, मित्र, चित्र और चरित्र," किसी की पहचान के मोहताज नहीं* ये चारों अपना परिचय स्वयं देते हैं." ~ Ef RJ

An enigmatic superstar | The Shahenshah of Bollywood

Let's Connect

sm2p0