FB 1950 - .. केवल एक दिवस देते हो कवि, कविता के लिए , आश्चर्य होता होगा सभी कवि दिग्गजों के लिए ; जानते नहीं हो तुम विश्व के आचरण को जीव जीवनी, प्रति क्षण कविता होती है सर्व प्रिये ! ~ab एक कवि पुत्र का विनम्र निवेदन

WorldPoetryDay2018

Amitabh Bachchan,  WorldPoetryDay2018

FB 1950 - #WorldPoetryDay2018 ..

केवल एक दिवस देते हो कवि, कविता के लिए ,
आश्चर्य होता होगा सभी कवि दिग्गजों के लिए ;
जानते नहीं हो तुम विश्व के आचरण को
जीव जीवनी, प्रति क्षण कविता होती है सर्व प्रिये !
~ab

एक कवि पुत्र का विनम्र निवेदन

FB 1950 - #WorldPoetryDay2018 .. केवल एक दिवस देते हो कवि, कविता के लिए , आश्चर्य होता होगा सभी कवि दिग्गजों के लिए ; जानते नहीं हो तुम विश्व के आचरण को जीव जीवनी, प्रति क्षण कविता होती है सर्व प्रिये ! ~ab एक कवि पुत्र का विनम्र निवेदन

Let's Connect

sm2p0